Friday , November 25 2022
Breaking News

इटावा स्वयं सहायता समूह की महिलाओं ने निकाली जागरूकता रैली

*🌹घर-घर अलख जगाएंगे, मतदाता जागरूक बनाएंगे*
*🌹स्वयं सहायता समूह की महिलाओं ने निकाली जागरूकता रैली*
*🌹उत्कृष्ट कार्य के लिए महिलाओं को समानित किया जाएगा*
*इटावा* उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़ी स्वयं सहायता समूह की महिलाओं ने मतदाताओं को जागरूक करने के लिए विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन कर रही है।इसके लिए *श्रुति सिंह जिलाधिकारी के निर्देशन में* शत प्रतिशत मतदान कराने का ठानी है।उन्होंने महिलाओं से ऑनलाइन वार्ता की और कहा कि सभी मतदाताओं को बिना किसी भय और दबाव के मतदान करना चाहिए।चुनाव सरकार और शासन को संबैधानिक वैधता प्रदान करते हैं।मतदाताओं को निर्भय होकर मतदान करना चाहिए।भय,पक्षपात, स्वार्थ,लालच या दबाव में मतदान न करें।मतदाता को लोकतंत्र की रक्षा, क्षेत्र के विकास और संविधान-प्रदत्त अधिकारों के लिए मतदान के दिन मतदान अवश्य करने जाना चाहिए।
*संतोष कुमार राय मुख्य विकास अधिकारी ने बताया* कि पिछले चुनाव में जो लोग मतदान नहीं कर पाए हैं,उन्हें चिन्हाकंन कर मतदान करने के लिए प्रोत्साहित किया जाना है।उन्होंने अपील किया कि समस्त जनपद वासी मतदान के दिन निश्चित रूप से अपने मताधिकार का प्रयोग करें।
*बृजमोहन अंबेड उपायुक्त स्वरोजगार ने कहा* कि लोकतंत्र की जड़ मतदाता है।हमारा देश संसार के जनतांत्रिक देशों में सबसे बड़ा है क्योंकि हमारे यहाँ मताधिकार प्राप्त नागरिकों की संख्या विश्व में सबसे बड़ी है।हम एक लोकतांत्रिक देश के स्वतंत्र नागरिक है।लोकतांत्रिक प्रणाली के तहत जितने अधिकार नागरिकों को मिलते हैं,उनमें सबसे बड़ा अधिकार है वोट देने का अधिकार।इस अधिकार को पाकर हम मतदाता कहलाते हैं।एक मजबूत लोकतंत्र के लिए आवश्यक है कि शत प्रतिशत मतदान हो।
*विकास खंड जसवन्तनगर* के प्रतापपुरा निलोई,सैफई के ग्राम पंचायत रमैयापुर,बसरेहर के ग्राम पंचायत बहादुरपुर में महिलाओं ने जागरूकता रैली निकाली और *घर-घर अलख जगाएंगे,मतदाता जागरूक बनाएंगे*– *“एक वोट से होती जीत हार,वोट न जाये बेकार”* के नारे लगाए।भाषण प्रतियोगिता,हस्ताक्षर अभियान,वोटर आईडी वितरण आदि कार्यक्रमों का आयोजन भी किया गया।
*इस मौके पर* ब्लॉक मिशन प्रबंधक प्रवीण कुमार,आशुतोष कुमार मनीष सिंह,ज्योति,रीनू,कमलेश,दीप्ति,स्तुति,नीलू,रूबी,रजनी,नीतू,मनीषा,गीता, अंजली सहित समस्त आईपीआरपी, समूह की सदस्य ग्रामीण महिलाएं उपस्थित रही।