Tuesday , October 4 2022
Breaking News

युद्ध की आशंकाओं के बीच हंगरी के पीएम ने रूसी प्राकृतिक गैस के बड़े शिपमेंट के लिए समझौते की पैरवी की

यूक्रेन की सीमाओं पर रूसी सैनिकों के जमावड़े और युद्ध की आशंकाओं के बीच मॉस्को में राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ बैठक के दौरान हंगरी के प्रधानमंत्री विक्टर ओर्बन ने बुधवार को रूसी प्राकृतिक गैस के बड़े शिपमेंट के लिए समझौते की पैरवी की।

क्रेमलिन  में बैठक के बाद एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान, हंगरी के दक्षिणपंथी राष्ट्रवादी नेता विक्टर ओर्बन ने कहा कि उन्होंने रूसी ऊर्जा कंपनी गजप्रोम के साथ हंगरी के लिए 15 साल के गैस अनुबंध के विस्तार का अनुरोध किया है.

फिर भी ओर्बन के अनुरोध ने दोनों देशों के बीच घनिष्ठ आर्थिक और राजनयिक संबंधों को रेखांकित किया है। हंगरी यूरोपीय संघ और नाटो दोनों का सदस्य होते हुए भी मॉस्को के साथ अपने संबंधों को बढ़ाना चाहता है।

2010 में हंगरी में सत्ता संभालने के बाद से पुतिन के साथ ओर्बन की बुधवार को हुई यह उनकी 12वीं बैठक है, जबकि पिछले साल यूक्रेन के पास रूसी सैनिकों के जमावड़े को लेकर तनाव बढ़ने के बाद से पुतिन की किसी पश्चिमी देश के नेता के साथ यह पहली व्यक्तिगत मुलाकात थी।

जिसने यूक्रेन पर संभावित रूसी आक्रमण पर चिंताओं को जन्म दिया है। ओर्बन ने कहा, “मैंने अपनी वर्तमान यात्रा को एक शांति मिशन के रूप में भी देख रहा हूं।”