Saturday , October 1 2022
Breaking News

जसवंतनगर/इटावा। झीला गांव की एक गली बनकर रह गई

जसवंतनगर/इटावा। झीला गांव की एक गली तालाब बन कर रह गई। बीते कई साल से मोहल्ले वासी परेशान हैं। उन्होंने प्रशासन से समस्या निदान की गुहार लगाई है।
विकासखंड जसवंतनगर की कैस्त ग्राम पंचायत के मजरा झीला गांव के पूर्वी मोहल्ले में एक गली पिछले कई साल से तालाब बन कर रह गई है। घरों का गंदा पानी हमेशा इस गली में ही भरा रहता है। धर्मेंद्र लोधी के दरवाजे पर लगे हैंडपंप के चारों ओर यह गंदा पानी जमा हो जाता है इस कारण पेयजल के लिए भी लोगों को परेशानी होती है। ओवरफ्लो होने पर यह सड़ांध छोड़ता पानी कभी घरों की ओर भी रुख कर जाता है तो बगल में खड़ी फसलों का नुकसान भी आए दिन होता रहता है। यही कारण है कि मोहल्ले के अधिकांश घरों में कोई ना कोई बीमार भी बना रहता है। रास्ता बंद होने से आवागमन भी बाधित है। बच्चे बुजुर्ग महिलाओं को इस गंदे पानी में घुसकर या फिर संभल कर निकलना पड़ता है आए दिन गिरकर चोट भी लग जाती हैं।
गली में जलभराव के कारण ही रामदीन, दीनदयाल व श्याम सिंह के घरों में भी पानी भर जाता है। दीनदयाल, पंकज राजपूत, पवन राजपूत व गंभीर सिंह का नुकसान भी आए दिन होता रहता है। इन सब का कहना है कि कई बार प्रशासन को इस संबंध में प्रार्थना पत्र दिए किंतु कोई कार्यवाही नहीं हुई और वे इस नर्क में जीवन जीने को मजबूर हैं।

खंड विकास अधिकारी एम एल यादव ने बताया ग्रामीणों द्वारा उनको समस्या बताई गई है चुनाव के बाद प्रस्ताव बनाकर इस समस्या का निस्तारण किया जाएगा