Monday , November 28 2022
Breaking News

बेसिक शिक्षा के साथ स्कूलों के 19 बिन्दुओ का दें ध्यान : एनपी सिंह

Report By : Sanjay Sahu, Chitrakoot

चित्रकूट : राज्य परियोजना कार्यालय उत्तर प्रदेश लखनऊ के निर्देशानुसार कर्वी विकास खण्ड में संचालित परिषदीय विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों की जुलाई की मासिक समीक्षा बैठक रैन बसेरा, सीतापुर, चित्रकूट में संपन्न हुई. बैठक की थीम ” Meet on Quality Education with School Head Masters ” रही. बैठक खंड शिक्षा अधिकारी चित्रकूट एनपी सिंह द्वारा की गई. बैठक में जनपद के सभी SRG, ARP, नोडल शिक्षक संकुल तथा वर्ल्ड विजन इंडिया संस्था के प्रतिनिधियों और यूनिसेफ के प्रतिनिधियों द्वारा अपने विचार साझा किए. इस बैठक में निपुण भारत मिशन, स्कूल रेडिनेस कार्यक्रम, मिशन शक्ति कार्यक्रम, कन्या सुमंगला कार्यक्रम, ऑपरेशन कायाकल्प के अंतर्गत 19 बिंदुओं की अवस्थापना सुविधाओं से संबंधित कार्यक्रम, मध्यान भोजन योजना के संचालन, मानव संपदा पोर्टल से संबंधित बिंदुओं , राष्ट्रीय आय एवं योग्यता आधारित छात्रवृत्ति परीक्षा, दीक्षा ऐप, रीड एलांग ऐप के प्रयोग पर चर्चा, बच्चों हेतु आयोजित होने वाली साप्ताहिक आनलाईन क्विज प्रतियोगिताओं में अधिक से अधिक बच्चों के प्रतिभाग कराने पर रणनीति, नोडल शिक्षक संकुल स्तर पर आयोजित बैठकों की रणनीति पर चर्चा, संचारी रोग नियंत्रण अभियान, हर घर तिरंगा कार्यक्रम, राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस अभियान आदि विभिन्न बिंदुओं पर विभागीय दिशा निर्देशों का आदान प्रदान किया गया |

विज्ञापन
विज्ञापन

खंड शिक्षा अधिकारी एनपी सिंह द्वारा समग्र रूप से विभागीय निर्देशों से प्रधानाध्यापकों को अवगत कराया गया तथा विभागीय निर्देशों का समुचित संचालन, समय से विद्यालय में उपस्थिति, अधिक से अधिक छात्रों की उपस्थिति, शारदा अभियान के अन्तर्गत आउट आफ स्कूल पाये गये बच्चों का नामांकन, डीबीटी के अंतर्गत शत प्रतिशत छात्र छात्राओं को लाभान्वित करने, ऑपरेशन कायाकल्प के अंतर्गत सभी 19 अवस्थापना सुविधाओं से विद्यालय को परिपूर्ण करने, विद्यालय में स्वच्छता कार्यक्रम नियमित रूप से संचालित करने, हर घर तिरंगा कार्यक्रम की पूर्ण कार्य योजना तैयार करने, निपुण भारत के अंतर्गत बालवाटिका से लेकर कक्षा 3 तक भाषा और गणित में निर्धारित लक्ष्यों को समस्त शिक्षकों, शिक्षामित्रों और अनुदेशकों द्वारा याद करने, निपुण भारत मिशन को जन आंदोलन के रूप में प्रचार प्रसारकरने व एस, एम सी की नियमित बैठकें करने और विद्यालयों की समस्याओं पर अभिभावकों का सहयोग प्रदान करने तथा शिक्षकों की विभिन्न समस्याओं के निराकरण पर अपने विचार व्यक्त किए गए |

विज्ञापन
विज्ञापन

वर्ल्ड विजन इंडिया संस्था के प्रतिनिधि संदीप कुमार सोनी द्वारा वर्ल्ड विजन इंडिया संस्था द्वारा किस प्रकार से शैक्षिक उन्नयन में विद्यालयों को सहयोग प्रदान किया जाएगा पर अपने विचार व्यक्त किए गए. यूनिसेफ संस्था के प्रतिनिधि नईम अहमद द्वारा निपुण भारत पर अपने विचार व्यक्त किए गए. एसआरजी गीत श्रीवास्तव एवं हरीशचंद कुशवाहा द्वारा निपुण भारत मिशन के अंतर्गत विभिन्न चरणों में किस प्रकार से कार्य योजना तैयार कर लक्ष्य की ओर अग्रसर होना है, इस पर शिक्षकों से अपने विचार साझा किए गए एआरपी दिलीप सिंह द्वारा क्विज प्रतियोगिता में किस प्रकार से अधिक से अधिक बच्चों का रजिस्ट्रेशन कराना है और उन्हें प्रतिभाग करना है |

विज्ञापन
विज्ञापन

इस पर शिक्षकों का मार्गदर्शन किया गया तथा अधिक से अधिक प्रतिभा सुनिश्चित करने का आग्रह किया गया. ए आर पी संतोष कुमार साहू द्वारा निपुण भारत के लक्ष्य हेतु वर्तमान में छात्र-छात्राओं के लर्निंग स्तर के मूल्यांकन हेतु तैयार की गई गूगल सीट पर चर्चा की गई तथा उक्त गूगल सीट को भरने हेतु शिक्षकों का मार्गदर्शन किया गया. एआरपी तीरथ प्रसाद द्वारा मानव संपदा पोर्टल एवं मध्यान भोजन योजना के संचालन पर अपने विचार व्यक्त किए गए. एआरपी सुशील कुमार साहू द्वारा एसएमसी की गुणवत्ता पूर्ण बैठकें आयोजित करने तथा समुदाय का अधिक से अधिक सहयोग विद्यालय संचालन में प्राप्त किए जाने पर अपने विचार व्यक्त किए गए. एआरपी अशोक कुमार पठारी द्वारा कार्यशाला में मंच का संचालन किया गया तथा विद्यालय में शिक्षणेत्तर गतिविधियों के संचालन तथा उनसे होने वाले लाभ के विषय में अपने विचार व्यक्त किए गए साथ ही शिक्षकों का मार्गदर्शन भी किया गया. सहायक अध्यापक पुष्पेंद्र सिंह मोनू द्वारा डीवीटी के अंतर्गत आ रही समस्याओं के निराकरण के संबंध में शिक्षकों द्वारा पूछे गए प्रश्नों का उत्तर दिया गया. बृजेश सिंह नोडल शिक्षक संकुल, संकुल राजेश सिंह शिक्षक द्वारा बैठक को सकुशल सम्पन्न कराया गया।