Thursday , May 19 2022
Breaking News

औरैया संदिग्ध परिस्थितियों में फौजी ने की आत्महत्या

संदिग्ध परिस्थितियों में फौजी ने की आत्महत्या

*एसआई के पद पर सिलेक्शन होने के कारण सेना से रिटायरमेंट लेकर आया था घर*

औरैया थाना फफूंँद क्षेत्र के ग्राम शिबूपुर अधासी हाल पता गोविंद नगर औरैया निवासी एक फौजी ने शुक्रवार की दोपहर गोविंद नगर स्थित अपने आवास पर ही फांसी लगाकर अपने प्राण त्याग दिए। उक्त फौजी 4 दिन पूर्व सेना से त्यागपत्र देकर घर आया था। क्योंकि उसका सिलेक्शन उपनिरीक्षक के पद पर हो गया था। घटना के समय फौजी का पुत्र घर पर था। उसकी चीख-पुकार सुनकर पास पड़ोस के लोग दौड़ पड़े , और देखा तो फौजी बरामदे में पड़ा हुआ था। मौके पर पहुंचे फौजी के साले ने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहां पर चिकित्सकों ने उसे देखते ही मृत घोषित कर दिया। सूचना पर मृतक की पत्नी एवं परिजन तथा पुलिस अस्पताल पहुंच गये। पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। फौजी की मौत से परिजनों में करुण-क्रंदन गूंज रहा था।
थाना फफूंद क्षेत्र के ग्राम शिबूपुर अधासी हाल पता गोविंद नगर सिद्धेश्वर गार्डन के पास औरैया फौजी प्रकेश कुमार पाल 36 वर्ष पुत्र भागीरथ जोकि 327 रेजीमेंट आर्टरी पठानकोट में तैनात थे। 31 जनवरी 2022 को वह रिटायरमेंट लेकर 1 फरवरी को ही अपने घर पहुंचे थे। घर परिवार में किन्ही बातों के लिए परेशान थे, लेकिन बहुत ही बुजदिली का काम किया। उन्होंने शुक्रवार की दोपहर अपने घर पर औरैया में ही फांसी लगाकर अपने प्राण त्याग दिए। सूचना मिलने पर फौजी की पत्नी सीमा एवं उनका साला संदीप मौके पर पहुंचे। साले ने फौजी को आनन-फानन निजी साधन से 50 शैय्या युक्त जिला संयुक्त चिकित्सालय में भर्ती कराया। जहां पर चिकित्सकों ने उसे देखते ही मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलने पर फौजी संगठन के जिलाध्यक्ष पूर्व फौजी अनिल कुमार व परिजन एवं कोतवाली पुलिस अस्पताल पहुंची। पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। फौजी की मौत से उसकी पत्नी एवं परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था।
बताया जाता है कि उक्त फौजी 3 दिन पहले ही रिटायरमेंट लेकर आए थे। गोविंद नगर में निवास बनाया हुआ है। वह अपनी पत्नी सीमा को शुक्रवार की सुबह ही अपने पैतृक गांव शिबूपुर छोड़ कर आया था। घर पर उसका एक पुत्र था। जिसने अपने पिता को बरामदे में तखत के समीप पडा हुआ देखा। पिता के द्वारा किसी प्रकार की क्रिया प्रतिक्रिया नहीं देखकर वह चिल्लाता हुआ दरवाजे के बाहर आया, तभी मोहालवालों ने जाकर देखा तो फौजी तखत के समीप मुंह के बल पड़ा हुआ था, तथा उसके गले में रेशमी रस्सी फंसी हुई थी। परिजनों के अनुसार उपरोक्त फौजी का सिलेक्शन उपनिरीक्षक के पद पर हो गया था। इसी के चलते वह रिटायरमेंट लेकर घर आया हुआ था। फौजी के 2 पुत्र हैं , जिनमें से उत्कर्ष 11 वर्ष एवं संगम 8 वर्ष है। इस संबंध में कोतवाली पुलिस का कहना है कि मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर घटना की हकीकत पता चल सकेगी।
ए, के,सिंह संवाददाता