Wednesday , May 18 2022
Breaking News

*औरैया,कांग्रेस प्रत्याशी का क्षेत्र में स्वयं का नहीं है वोट कैसे कर पाएगी विपक्षियों पर चोट*

*औरैया,कांग्रेस प्रत्याशी का क्षेत्र में स्वयं का नहीं है वोट कैसे कर पाएगी विपक्षियों पर चोट*

*बिधूना,औरैया।* बिधूना विधानसभा क्षेत्र 202 सामान्य सीट पर कांग्रेस पार्टी से चुनावी मैदान में उतरी प्रत्याशी का क्षेत्र में स्वयं का भी वोट नहीं है और न ही चुनाव के पहले क्षेत्र की जनता से उनका कोई सरोकार रहा है साथ ही लंबे अर्से से राजनीति के हाशिए पर पड़ी कांग्रेस का प्रत्याशी ऐसे में विपक्षियों पर कितनी चोट कर पाएगा यह कह पाना काफी कठिन है लेकिन इतना जरूर है कि कांग्रेस
की फिलहाल चुनावी डगर काफी कठिन है और कांग्रेस को बहुत मशक्कत की जरूरत है। बिधूना विधानसभा क्षेत्र 202 मेंं कांग्रेस पार्टी पिछले लगभग 42 वर्षों से अपना जीत का परचम नहीं फहरा सकी है। लंबे अर्से से सत्ता से दूर रहने के कारण कांग्रेस का जमीनी कार्यकर्ता कांग्रेस को कमजोर मानकर विभिन्न राजनीतिक दलों के साथ जुड़ गया है वही उसका परंपरागत वोट बैंक अधिकांश दलित व मुस्लिम भी उसके पाले खिसक कर बसपा व सपा के साथ जुडता नजर आया है। ऐसे में पिछले कई चुनावों से इस क्षेत्र में कांग्रेस प्रत्याशी अपनी जमानत तक नहीं बचा पाते दिखे है। इस बार के चुनाव में क्षेत्र के ही कुछ नेताओं द्वारा टिकट हासिल करने की मंशा कांग्रेस को मजबूती देने का प्रयास किया गया , लेकिन ऐन वक्त पर उनका टिकट काटकर इस सामान्य सीट पर अनुसूचित जाति की महिला प्रत्याशी सुमन व्यास को प्रत्याशी घोषित कर दिया गया। ऐसे में एक बार फिर पुराने निष्ठावान कांग्रेसी सकते में आकर शांत बैठे नजर आ रहे हैं। सबसे दिलचस्प और गौरतलब बात तो यह है , कि कांग्रेस द्वारा जिस प्रत्याशी को क्षेत्र के चुनावी मैदान में उतारा गया है , उसका इस क्षेत्र में स्वयं का भी वोट नहीं है। हालांकि कांग्रेस प्रत्याशी द्वारा अपनी ससुराल इसी विधानसभा क्षेत्र में होने का हवाला दिया जा रहा है, लेकिन नामांकन में उनका पता दूसरे जिले का दिया गया है , और चुनाव घोषित होने के पूर्व तक इस क्षेत्र की आम जनता की कौन कहे कांग्रेसियों ने भी कभी उनके दर्शन नहीं किए थे। जनचर्चा तो आम यह है, कि इस क्षेत्र में संगठनात्मक कमजोरी के चलते कांग्रेस के प्रति जनता में कोई उत्साह फिलहाल दिखता नजर आ रहा है। ऐसे में कांग्रेस इस क्षेत्र में विपक्षियों पर हावी हो पाएगी यह कह पाना काफी कठिन है। वैसे कांग्रेस चुनावी समर में क्षेत्र में अपनी पैठ बनाने के हर हथकंडे अपनाने में लगी दिख रही है।

रिपोर्टर :-: आकाश उर्फ अक्की भईया फफूंद