Sunday , July 14 2024
Breaking News

हाजीपुर के मास्टर प्लान -2041 पर जिला पदाधिकारी ने की बैठक

रिपोर्ट : मृत्युंजय कुमार

वैशाली,बिहार : आज जिला पदाधिकारी  यशपाल मीणा द्वारा हाजीपुर के जीआईएस बेस्ड  मास्टर प्लान 2041 की तैयारी को लेकर समाहरणालय में बैठक की गई। बैठक में कई भागों के अधिकारियों ने भाग लिया।

मास्टर प्लान के कंसलटेंसी एजेंसी मेसर्स टेक्मेट इंटरनेशनल प्राइवेट लिमिटेड के प्रतिनिधि द्वारा प्रस्तुत स्टेज 3 का डाटा कलेक्शन तथा एनालिसिस की समीक्षा की गई।

जिला पदाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि हाजीपुर आयोजना क्षेत्र के सभी स्टेकहोल्डर के साथ अलग-अलग बैठक आयोजित की जाए।

हाजीपुर के विधायक अवधेश सिंह ने सुझाव दिया कि हाजीपुर- महनार (8 लेन ) ,हाजीपुर- जंदाहा (6 लेन) नदी पुल को आपस में कनेक्टिविटी बढ़ाने हेतु अधिक चौड़ी सड़क बनाया जाए। साथ ही कोनहारा घाट से कालीघाट को जोड़ने वाली पुल एवं सड़क के चौड़ाई बढ़ाते हुए मास्टर प्लान 2041 में इसे शामिल करने का सुझाव दिया गया।

हाजीपुर आयोजन क्षेत्र की नदियों, तालाबों को अतिक्रमण मुक्त करते हुए जल की शुद्धता बढ़ाना एवं उनके किनारे के क्षेत्र  सौंदरीकरण का सुझाव  दिया गया।  नदियों के किनारे बाजार को  विकसित करने का सुझाव दिया गया, ताकि सड़कों पर ट्रैफिक का दबाव कम हो सके।

सुझाव दिया गया कि सुव्यवस्थित सीवर एवं ड्रेनेज सिस्टम को इस प्लान में शामिल किया जाए। मास्टर प्लान में इंडस्ट्री को विकसित करने का भी सुझाव दिया गया।नदियों के तटवर्ती क्षेत्र में कटाव रोकने के लिए और कटाव काम करने के लिए वानिकी को प्रोत्साहित करने तथा इसे संरक्षित करने का प्रावधान मास्टर प्लान में शामिल करने का सुझाव आया।

जिला पदाधिकारी द्वारा कहा गया कि वैशाली के गौरवशाली इतिहास को देखते हुए गणतंत्र की जननी तथा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की यात्रा के क्रम में  हाजीपुर में आवासन आदि को भी मास्टर प्लान 2041 में शामिल किया जाए।

सौर ऊर्जा, सीएनजी आधारित ऊर्जा वाले वाहनों का प्रयोग, स्ट्रीट वेंडर हेतु कार्य योजना, स्किल डेवलपमेंट पर जोर ,बड़ी-बड़ी कंपनियों के असेंबलिंग प्लांट अधिष्ठापन, लेबर इंटेंसिव इंडस्ट्री की स्थापना ,स्पेशल इकोनामिक जोन की स्थापना,रोड,  वॉटर लॉगिंग और रेलवे का इंटीग्रेटेड ट्रांसपोर्टर हब को भी शामिल करने का सुझाव दिया गया।

पटना मेट्रो को हाजीपुर तक एक्सटेंशन करने का प्रस्ताव भी आया। मैन्युफैक्चरिंग तथा असेंबलिंग बेस्ड इंडस्ट्रीज के लिए स्पेशल इकोनामिक जोन का प्रावधान शामिल करने का सुझाव भी दिया गया।

बैठक में नगर  के कार्यपालक पदाधिकारी, सिटी मैनेजर, नगर परिषद के सभापति तथा कई विभागों के पदाधिकारी उपस्थित थे।

Karmakshetra TV अब Google News पर भी !