Thursday , May 19 2022
Breaking News

हीमोग्लोबिन की कमी से व्यक्ति के शरीर में होने लगती हैं ये सभी बीमारियाँ, देखिए

शरीर में मौजूद खून में हीमोग्लोबिन का निचला स्तर आयरन की कमी यानी एनीमिया कहलाता है। हीमोग्लोबिन की कमी से व्यक्ति में थकान, त्वचा का पीला पड़ना, सांस फूलना, तेज या अनियमित दिल की धड़कन, ऊर्जा की कमी, बालों का झड़ना, हाई ब्लड प्रेशर या लो ब्लड प्रेशर जैसे आम लक्षण नजर आने लगते हैं।

माना जाता है कि एक स्वस्थ व्‍यस्‍क पुरुष में 14 से 18 मिलीग्राम और महिला के शरीर में 12 से 16 मिलीग्राम हीमोग्लोबिन होना चाहिए। इस मात्रा से कम हीमोग्लोबिन होने पर व्यक्ति को अपनी डाइट में इन 5 चीजों को शामिल करने पर ध्यान देना चाहिए। आइए जानते हैं इनके बारे में।

अनार- शरीर में खून की कमी दूर करने के लिए अनार को सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है। इसमें आयरन, मैग्नीशियम, कैल्शियम और विटामिन प्रचूर मात्रा में पाए जाते हैं जो शरीर में हीमोग्लोबिन बढ़ाने में मदद करते हैं। इसके रोजाना सेवन से लाल रक्त कोशिकाओं के बनने में मदद मिलती है।

चुंकदर- चुंकदर का सेवन करने से भी शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ाने में मदद मिलती है। इसमें भरपूर मात्रा में कैल्शियम, आयरन, विटामिन ए और विटामिन सी मौजूद होता है। इसके अलावा यह फोलिक एसिड, फायबर, मैग्नीज और पोटेशियम का भी अच्छा स्रोत है। आप चुकंदर को सलाद के रूप में भी खा सकते हैं या उसका जूस बनाकर भी पी सकते हैं।

खजूर- हीमोग्लोबिन की कमी दूर करने में खजूर भी आपकी मदद कर सकते हैं। खजूर में प्रचूर मात्रा में कॉपर,मैग्नीशियम , मैग्नीज़, विटामिन बी6, आचिन, पैंटोथेनिक एसिड और रिबोफ्लाविन जैसे पोषक तत्व होते हैं। यही वजह है कि खजूर को लोहे का समृद्ध स्रोत माना जाता है। खून की कमी को दूर करने के लिए आप रोजाना सुबह खाली पेट गर्म दूध के साथ खजूर का सेवन करें। इससे काफी फायदा मिलेगा।

मेथी- खून की कमी दूर करने के लिए मेथी का भी सेवन भी काफी फायदेमंद माना जाता है। इसमें उच्च मात्रा में लोहा पाया जाता है, जिससे लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने में सहायता मिलती है। मेथी के पत्ते और बीज दोनों का सेवन फायदेमंद होता है।

पालक- शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ाने में पालक का सेवन भी काफी मदद कर सकता है। पालक में भरपूर मात्रा में आयरन पाया जाता है। जो शरीर में हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाने में मदद करता है।