Friday , May 24 2024
Breaking News

चित्रकूट में फर्जी सरकारी नियुक्ति मुकदमा दर्ज


स्वास्थ्य विभाग में एक वार्डब्याय फर्जीवाड़ा 17 माह से नौकरी कर रहा

Sanjay Sahu,Chitrakoot


चित्रकूट : फर्जी और गलत नियुक्ति पत्र के जरिए स्वास्थ्य विभाग में नौकरी हासिल करने का मामला उजागर होने से जिले में हड़कंप मच गया है। फर्जीवाड़े का मामला सामने आने पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने शिवरामपुर अस्पताल में कार्यरत डार्क रूम सहायक की सेवाएं समाप्त कर दी हैं। साथ ही मामले में एफ आई आर कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होने एक्स रे टेक्नीशियन पद का फर्जी नियुक्ति पत्र लेकर विभाग जमा करने वाले एक अन्य युवक के विरुद्ध एफ आई आर दर्ज कराने को कहा है।


चित्रकूट में स्वास्थ्य विभाग में फर्जी नियुक्ति पत्र के जरिए नौकरी हासिल करने का मामला उजागर हुआ है। बताया गया कि फर्रुखाबाद निवासी प्रदीप कुमार पुत्र स्वर्गीय रामनाथ सिंह ने बीती 22 जनवरी 2021 को जारी महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य लखनऊ उ प्र के पत्र के आधार पर 16 जुलाई 2021 को शिवरामपुर अस्पताल में डार्क रुम सहायक के पद कार्य भार संभाला था।जिसके बाद से वह निरंतर विभाग से वेतन प्राप्त कर रहा था।

विगत दिनों विभागीय अभिलेख सत्यापन के दौरान संदेह होने पर सी एम ओ डा भूपेश द्विवेदी ने इस मामले में उच्चाधिकारियों से पत्राचार किया तो पता चला कि महानिदेशक स्वास्थ्य कार्यालय से कोई नियुक्ति पत्र ही नहीं जारी हुआ है। इसी प्रकार 28 नवंबर 2022 को एक्स रे टेक्नीशियन का नियुक्ति पत्र जमा करने वाले फर्रुखाबाद के ही अमित कुमार वर्मा पुत्र आशाराम का पत्र भी फर्जी पाया गया है।जिसके खिलाफ एफ आई आर दर्ज करानी की बात सी एम ओ ने कही है। वही सूत्रों के मुताबिक चित्रकूट में अभी कुछ और कर्मचारियों के फर्जी नियुक्ति पत्र के आधार पर नौकरी हथियाने का मामला सामने आ सकता है।