Friday , May 24 2024
Breaking News

मानवता के संरक्षक, अन्याय व अत्याचार के संहार का प्रतीक हैं भगवान परशुराम: आकाश

राष्ट्रीय ब्राह्मण संघ की ओर से धूमधाम से मनाई गई भगवान परशुराम जयंती

रिपोर्ट  : राहुल मौर्या

रामपुर। शहर विधायक आकाश सक्सेना ने कहा कि भगवान परशुराम के जीवन मानवता के संरक्षण और पृथ्वी से अन्याय व अत्याचारियों के संहार का प्रतीक माना जाता है। उन्होंने कहा कि आज प्रत्येक व्यक्ति को भगवान परशुराम से प्रेरित होकर समाज से अन्याय की समाप्ति का संकल्प लेना चाहिए।


राष्ट्रीय ब्राह्मण संघ की ओर से शुक्रवार को शिवि सिनेमा के सामने भगवान परशुराम की जयंती धूमधाम से मनाई गई। मुख्य अतिथि शहर विधायक आकाश सक्सेना ने भगवान परशुराम के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम की शुरूआत की। इस मौके पर उन्होंने कहा कि भगवान परशुराम ने अस्त्र-शस्त्र उठाकर पृथ्वी से अन्याय व अत्याचार की समाप्ति का संकल्प लिया था। वे हमेशा न्याय के पक्षधर थे और उन्होंने ऐसा किया भी।

आज भी उनके आदर्श और विचारधारा समाज को शक्ति देने का कार्य करते हैं। अंत में राष्ट्रीय ब्राहमण संघ के जिलाध्यक्ष राहुल शर्मा ने शहर विधायक को स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया। साथ ही सभी श्रृद्धालुओं को प्रसाद वितरण किया।

इस अवसर पर उत्तराखंड मठ मंदिर प्रमुख विकासानंद महाराज, अनिल वशिष्ठ, शैलेंद्र शर्मा, पारस मणि वशिष्ठ, अनुज भारद्वाज, प्रतीक शर्मा, परागमणि वशिष्ठ, शेखर शर्मा आदि उपस्थित रहे।