Wednesday , May 18 2022
Breaking News

सर्दी-जुखाम हो या चोट का दर्द हल्दी का दूध आपको दिलाएगा हर समस्या से निजात

हज़ारों सालो से भारत और पूर्वी देशों में हल्दी का प्रयोग खाने के साथ-साथ चिकित्सा के क्षेत्र में होता रहा है Haldi एक बहुत ही अच्छी प्राकृतिक औषधि के रूप में काम करती है।

इसलिए हमारे घरों के बड़े-बूढ़े अक्सर हमें सर्दी-जुखाम,या चोट लगने जैसी conditions में हल्दी वाला दूध पीने की सलाह देते रहे हैं। हल्दी दूध के फायदे अनगिनत हैं जिनको जानने के बाद पिछले कुछ वर्षों से पश्चिमी देशों में भी इसके प्रति काफी आकर्षण देखने को मिला है।

– गठिया के निदान के लिए एक बढ़िया और असरकारक पेय हल्दी वाला दूध हो सकता है. – हल्दी वाला दूध पीने से जोड़ों के दर्द को कम करता है और मांसपेशियां लचीला बनाकर दर्द करने में मददगार माना जाता है.

– आयुर्वेद में हल्दी वाले दूध का इस्तेमाल शोधन क्रिया में किया जाता है. यह खून से टॉक्सिन्स दूर करता है और लिवर को साफ करने में सहायक माना जाता है. पेट से जुड़ी समस्याओं में राहत चाहिए तो हल्दी वाला दूध मददगार हो सकता है.

– शोध की माने तो हल्दी में मौजूद तत्व कैंसर कोशिकाओं से डीएनए को होने वाले नुकसान को रोकते हैं और कीमोथेरेपी के दुष्प्रभावों को कम करते हैं
– हल्दी वाला दूध पीने से कान के दर्द में राहत मिलती है. ऐसा दूध पीने से ब्लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है. जिससे दर्द में तेजी से आराम मिलता है.